मैट्रो रेल परियोजना की नई नीति में ग्वालियर और जबलपुर भी हो शामिल

 नई दिल्ली। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने यहां केन्द्रीय शहरी विकास मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर से उनके कार्यालय में मुलाकात कर प्रदेश के इंदौर और भोपाल शहरों में चल रही मैट्रो रेल परियोजना के बारे में चर्चा की। चौहान ने बताया कि अभी प्रदेश के दो शहरों – इंदौर और भोपाल में मेट्रो रेल परियोजना का कार्य चल रहा है। केन्द्रीय मंत्रालय शीघ्र ही मैट्रो रेल परियोजना के संबंध में नई नीति लाने वाला है जिसके अंतर्गत भविष्य में नये शहरों को जोड़ा जायेगा। 

चौहान ने आग्रह किया कि नई नीति के अंतर्गत ग्वालियर और जबलपुर शहरों को भी मेट्रो रेल परियोजना में जोड़ा जाय। चैहान ने बताया कि मेट्रो रेल भविष्य की आवश्यकता है।

ग्वालियर और जबलपुर दोनों शहर 20 लाख से ज्यादा आबादी वाले शहर हैं। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार जल्द ही ग्वालियर और जबलपुर शहर में मेट्रो की डी.पी.आर. तैयार करने की प्रक्रिया शुरू करने जा रही है| बैठक में ग्वालियर शहर में उत्पन्न पानी की समस्या पर भी चर्चा की गई। केन्द्रीय मंत्री तोमर ने इस समस्या पर चिंता व्यक्त करते हुए इसका शीघ्र निदान करने की बात कही। उन्होंने सुझाव दिया कि चम्बल नदी से पानी को अपलिफ्ट कर ग्वालियर के तिगरा बांध में पानी डाला जाय जिससे कि ग्वालियर शहर के पानी की आपूर्ति की जा सके। मुख्यमंत्री चौहान ने इस पर सहमति जताते हुए उपस्थित राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों को इस संबंध में शीघ्र कार्यवाही करने के निर्देश दिये। इस अवसर पर मध्यप्रदेश की नगर विकास एवं आवास मंत्री श्रीमती माया सिंह भी मौजूद थीं।