देश में 118 नए कृषि विज्ञान केंद्रों की स्थापना की जाएगी: डॉ. वीरेन्द्र


देश में 118 नए कृषि विज्ञान केंद्रों की स्थापना की जाएगी: डॉ. वीरेन्द्र

केंद्रों को आवंटित की जा चुकी है राशि
टीकमगढ़। लोकसभा क्षेत्र के सांसद डॉ. वीरेन्द्र कुमार ने लोकसभा में सदन की कार्यवाही के दौरान कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय से प्रश्न किया कि नवीन कृषि विज्ञान केंद्र स्थापित करने के लिए सरकार की क्या कार्ययोजना है एवं कृषि विज्ञान केंद्र को आवंटित निधि का ब्यौरा क्या है। इन केंद्रों की प्रभावी कार्यप्रणाली के लिए सरकार द्वारा क्या कदम उठाए गए हैं। प्रतिउत्तर में कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय के राज्य मंत्री एस.एस. अहलूवालिया ने बताया कि वर्ष 2017-18 के दौरान देश में सभी कृषि विज्ञान केन्द्रों को कुल 7895.65 लाख रुपए की राशि आवंटित की गई है। जिसमें से मध्यप्रदेश राज्य के अंतर्गत कृषि विज्ञान केन्द्रों के लिए कुल 5204.14 लाख रुपए की राशि आवंटित की गई है। बताया कि सरकार ने देश के प्रत्येक ग्रामीण जिले में एक कृषि विज्ञान केन्द्र स्थापित करने का अनुमोदन कर दिया है। तदनुसार वर्ष 2017-18 से 2019-20 के दौरान देश के विभिन्न राज्यों में 118 नए कृषि विज्ञान केन्द्रों की स्थापना के 
लिए केवीके स्कीम की ईएफसी में प्रावधान किया गया है। 
 
उठाए गए प्रभाववी कदम
कृषि विज्ञान केन्द्रों के प्रभावकारी रूप से कार्य करने के लिए उठाए गए कदमों में वैज्ञानिक सलाहकार समितियों की बैठके वार्षिक क्षेत्रीय कायर्शालाएं मध्यावधि समीक्षा कायर्शालाएं कार्यकलाप विशिष्ट प्रशिक्षण और कायर्शालाएं आयोजित करना। कृषि प्रौद्योगिकी अनुप्रयोग अनुसंधान संस्थानों टीआरआई कृषि विश्वविद्यालयों के विस्तार शिक्षा निर्देशालयों एवं भाकृअप मुख्यालय के वरिष्ठ अधिकारियों लारा कृषि विज्ञान केन्द्रों के दौरे तथा केवीके पोर्टल के माध्यम से आॅनलाईन निगरानी शामिल है।